Friday, May 17, 2013

क्या आईपीएल पर प्रतिबंध लगना चाहिए ?

क्या आईपीएल को बंद कर दिया जाना चाहिए? स्पॉट फिक्सिंग में तीन खिलाडि़यों की गिरफ्तारी के बाद ये मांग फिर उठने लगी है। अपने खेल से देश के एक अरब लोगों का मनोरंजन करने वाले क्रिकेटर अगर इस तरह मुंह काला कर घूमें तो समझना मुश्किल नहीं कि संकट कितना बड़ा है। क्रिकेट का ये खेल माफिया डॉन से लेकर सत्ता की गलियारों तक गूंज रही है, आज यही कारण है की कोई भी दल या राजनेता इसे रोकने की जहमत नहीं उठा पा रहा है। खिलाडि़यों के साथ सट्टेबाजों की सांठ गांठ का गठजोड इस खेल के अंदर होने वाली खेल को उजागर कर दिया है। क्रिकेट के नाम पर पनपता हुआ ये कारोबार इतना प्रभावी होता जा रहा है और इसका मुनाफा इतना बडा है कि अब इसे रोक टोक पाना उसी तरह असंभव है जैसे कि देश में शराब के बढते फलते फूलते कारोबार को रोक पाना। जब भी ऐसी कोशिश की जाती है तो एक दलील दी जाती है कि करों के रूप में इससे भारत सरकार को बहुत बड़ी आय होती है। मगर ये दलील देने वाले हर बार क्यों भूल जाले है की राजस्व से भी एक बड़ा हिस्सा दफ्तरों में काम करने वालों लोगों को भी ये खेल कितना जयादा प्रभावित करता है, जो इसे देखने में समय को बर्बाद करते है।  

वैसे आईपीएल के साथ विवादों का सुरू से ही चोलि दामन का नाता रहा है। इससे पहले के संस्करण में भी अनेक विवाद आईपीएल की झोली में आए, जिसमें खिलाडियों द्वारा स्टेडियम में नशीले पदार्थ का उपयोग करने से लेकर चियर्स गर्ल का असलील नांच और मैच के बाद होने वाली रेव पार्टी काफी जयादा सुर्खीयों में रहा है। इन सब के अलावे आईपीएल में पैसों की अनियमितताएं भी एक बड़ा विवाद का कारण हमेषा से रहा है, इसी विवाद के कारण आईपीएल के पूर्व चेयरमैन ललित मोदी को हटाया गया। आईपीएल के पांचवें संस्करण में एक टीवी चैनल ने स्टिंग आपरेशन में कुछ आईपीएल खिलाडि़यों को स्पॉट फिक्सिंग करते हुए दिखाया। इस खबर ने क्रिकेट जगत को एक बार फिर शर्मसार किया। इस घटना के बाद एक और विवाद सामने आया जिसमे मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में एक मैच के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स के मालिक शाहरुख खान ने सुरक्षाकर्मियों और स्टेडियम प्रबंधक से हाथापाई तथा गालीगलौज भी की। एैसे में ये सभी घटनाए इस बात को और प्रबल बना देती है की क्या आईपीएल पर प्रतिबंध लगना चाहिए? रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर की तरफ से खेलने वाले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ल्यूक पॉमबाश पर भी आरोप लगा कि उन्होंने दिल्ली के एक होटल में अमरीकी महिला जोहल हमीद को छेड़ा और उनके मंगेतर के साथ मारपीट भी की। विवादों का दौर यहीं समाप्त नहीं हुआ ये कारवा और आगे बढ़ता गया। 

मुंबई पुलिस ने ऑकवुड होटल में एक छापे के दौरान पुणे वॉरियर्स के दो खिलाडियों को पकड़ा जहा पर रेव पार्टी का आयोजन किया गया। इस पार्टी में नशीले पदार्थ और शराब बरामद किया गया। इन सब से इतर आईपीएल विवादों का साया संसद में भी गूंजा जहां पर 60 सांसदों ने एक सुर में कहा कि आईपीएल बंद किया जाए, सरकार ने उचित कदम उठाने के लिए आष्वसान दिया मगर ये खेल बदस्तूर जारी है। अंत में अपनी सनसनीखेज और आपत्तिजनक तस्वीरों से सोशल मीडिया में तहलका मचाने वाली पूनम पांडे ने कोलकाता नाइट राइडर्स की जीत के बाद ट्विटर पर अपनी निर्वस्त्र तस्वीर जारी करके विवादों की सूची को और गहरा कर दिया। आज आईपीएल में विवादों की सूची लगातार बढ़ती जा रही है, एैसे में  इसके अस्तित्व को लेकर कई सारे सवाल खड़े हो रहे है। अब आईपीएल में खिलाडि़यों को पैसे के साथ साथ लडि़कियां भी परोसी जा रही है। आईपीएल खेल कम मनोरंजन अधिक हो गया है जहा पर आज पैसों के साथ हंसीनाओं का संगम और जमघट लग रहा है। इन तमाम विवादों को खंगालने के बाद सवाल खड़ा होता है की क्या आईपीएल पर प्रतिबंध लगना चाहिए?

No comments:

Post a Comment